हिन्दी साहित्य महत्वपूर्ण प्रश्न । previous year important questions

हिन्दी साहित्य के अति महत्वपूर्ण सवाल . b.ed , ctet, upssc, uppsc, uptet, stet

सूरदास किसके शिष्य़ थे
क. नाभादास ख. वल्लभाचार्य ग. गोकुलनाथ घ. विट्टठलनाथ

उत्तर – वल्लभाचार्य

सुदामाचरित किसकी रचा है
क. सूरदास ख. रहीम ग. नरोत्तमदास घ. कबीरदास

उत्तर नरोत्तमदास

पुष्टिमार्ग की स्थापना किसने की
क. शंकराचार्य ख. माध्यवाचार्य ग. वल्लभाचार्य घ. रामानुजाचार्य

उत्तर – वल्लभाचार्य

अष्टछाप की स्थापना सन् 1565 ईं में किसने की थी
क. वल्लभाचार्य ख. विट्ठलनाथ ग. निम्बकाचार्य घ. गोकुलनाथ

उत्तर – विट्ठलनाथ

कृष्ण काव्य धारा के प्रवर्तक हैं
क. चैतन्य महाप्रभु ख. स्वामी वल्लभाचार्य ग. सूरदास ग. नाभादास

सूरदास

आचार्य रामचन्द्रशुक्ल ने किस कवि को कठिन काव्य का प्रेत कहा है
क. भूषण ख. पद्माकर ग. देव घ. केशव

केशव

आचार्य रामचन्द्रशुक्ल ने रीतिकाल का प्रवर्तक आचार्य किसे माना है
क. मतिराम को ख. चिन्तामणि को ग. बिहारी को घ.. आचार्य केशवदास को

उत्तर – चिन्तामणि

भूषण रीतिकाल की किस काव्यधारा के कवि हैं
क. रीतिमुक्त काव्यधारा ख. आश्रयवादी काव्यधारा ग. रीतिबद्ध काव्यधारा घ. रीतिसिद्धि काव्यधारा

उत्तर- रितितिबद्ध काव्यधारा

रीतिकाल के रीतिसिद्धि काव्यधारा के कवि हैं
क. देव ख. बिहारी ग. केशव घ. भूषण

उत्तर – केशव

रीतिकालीन कवियों की काव्य भाषा क्या थी
क . खड़ी बोली ख. ब्रजभाषा ग. बुन्देली घ. अवधी

उत्तर – ब्रजभाषा

कविप्रिया के रचनाकार का नाम बताइये
क. केशव ख. धनान्द ग. पद्माकर घ. देव

उत्तर- केशवदास

इनमें से कौन सा कवि रीतिमुक्त नहीं है
क. बोधा ख. आलम ग. केशवदास घ. घनान्द

उत्तर – केशवदास

शिवराज भूषण के रचयिता का कवि कौन है
क. बिहारी ख. भूषण ग. पद्माकर घ. घनानन्द

उत्तर – भूषण

रीतिकाल के उस कवि का नाम बताइये जिसने वीर रस में कविता लिखी है
क. भूषण ख. घनानन्द ग. बिहारी घ. पद्माकर

उत्तर- भूषण

हिन्दी साहित्य में रीतिकाल कोे श्रृंगारकाल कहा है
क. डा गुलाब राय ने ख. मिश्र बंधुओं नें ग. आचार्य रामचन्द शुक्ल ने घ. आचार्य विश्वनाथ प्रसाद मिश्र ने

उत्तर – आचार्य विश्वनाथ प्रसाद मिश्र ने

दृृग उरूझत टूटत कुटुम्ब , जुरत चतुर चुत प्रीति यह कथन किसका है
क. तुलसी ख. जायसी ग. कबीर घ. बिहारी

उत्तर – बिहारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!