पर्यायवाची शब्द

ऐसे शब्द जिनके अर्थ में समानता हो , पर्यायवाची शब्द कहते हैं। किसी भी सुदृढ भाषा में पर्यायवाची शब्दों की संख्या अत्यधिक होती है। संस्कृत में पर्यायवाची शब्दों की संख्या अधिक है। हिन्दी में शब्दों के पर्यायवाची शब्द संस्कृत के तत्सम शब्द ही अधिक हैं, जिसे उसी रूप में स्थान दिया गया है। पर्यायवाची शब्द सामान्य रूप से अर्थ की समानता रखते हैं, लेकिन इनके प्रयोग समान अर्थ में नहीं होते हैं। प्रत्येक शब्द का महत्व विषय और स्थान के अनुसार होता है ।

पर्यायवाची शब्द के प्रकार

पर्यायवाची शब्द मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं।

  1. पूर्ण पर्याय 2. पर्णापूर्ण पर्याय तथा 3. अपूर्ण पर्याय

महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द

अंगअंश, अवयव, भाग, खण्ड , हिस्सा , टुकडा
अग्निअनल, आग, पावक, वहि, शिखी, शुचि, हरि, वैश्वावर, हुताशन, ज्वलन
अमृतपीयूष, सुधा, अमिय, अमित, जीवन, जीवनोदक, सोम
अश्वघोडा, बाजि, हय, तुरंगम्, घोटक, सैंधव, दधिका, सर्ता
असुरनिशाचर, दैत्य, राक्षस, दनुज, दानव, यातुधान, देवारि
आँखनेत्र, नयन, लोचन, चक्षु, द्रग, अक्षि, दृष्टि, विलोचन
आकाशगगन, आसमान, अम्बर, व्योम, अन्तरिक्ष, अनन्त, नभ, अभ्र, शून्य
आनन्दमोद, आमोद, प्रमोद, हर्ष, सुख, प्रसन्नता, उल्लास, आह्लाद, खुशी
इच्छाआकांक्षा, ईप्सा, अभिलाषा, चाह, कामना, मनोऱथ, स्पर्धा, मर्जी
कमलजलज, सरोज, पंकज, नीरज, अरविन्द, पद्म, कंज, सिद्धि, शतदल, अम्बुज, सरसिज, नलिन, राजीव, पुण्डरीक, इन्दीवर, पुष्कर
गणेशलम्बोदर, विनायक, गणपति, एकदन्त, गजवन्त, गजवदन, गजानन, गणनायक, भवानीनन्दन, पार्वतीनन्दन, मोदकदाता, विघ्नेश, गौरीनन्दन, गिरिजानन्दन, गणाधिप, हेरंब
गंगादेवनद, सुरसरिता, जान्हवी, देवनदी, मन्दाकिनी, भगीरथी
चाँदचन्द्र, चन्द्रमा, हिमांशु, सुधांशु, सुधाकर, राकेश, शशि, सारंग, निशाकर, निशापति, म्रगांक, कलानिधि, कलाप, रजनीश, इन्दु, शशांक, विधु, मयंक, हिमकर, शीतांशु
जलपानी, नीर, तोय, वारि, अम्बु, पय, सलिल, उदक, अम्रत, मेघपुष्प, सारंग
नदीसरिता, वाहिनी, शैलजा, अपगा, तटिनी, निम्नगा,निर्झरिणी, तरिंगिणी, जलमाला, नद, शैवालिनी, प्रवाहिनी
पतिवल्लभ, स्वामी, आर्य, ईश, दूल्हा, भर्तार, सहचर, सुहाग, सौहर, साजन,बालम, भर्ता
पत्नीभार्या, स्त्री, दारा, ग्रहिणी, बहू, कलत्र, प्राणप्रिया, औरत, अर्धांगिनी, ग्रहलक्ष्मी, जीवन, संगिनी, सहचरी बेगम
पर्वतभूधर, शैल, अचल, महीधर, गिरि, पहाड, नग, नगपति, धऱणीधर , मेरू, शिखर, नाग, आदि, तुंग।
पुत्रीआत्मजा, तनया, सुता, नन्दिनी, दुहिता, तनुजा, बेटी, लडकी
पथ्वीधरा, भूमि, वसुन्धरा, धरती, धरित्री, धरणी, वसुधा, भू, क्षिति, मही, इला, उवीं।
पवनहवा, अनिल, गन्धवह, पवमान, प्रभंजन,प्रवात, वात, वायु, समीर, समीरण, मातरिश्वा,
बिजलीविधुत, चपला, चंचला, दामिनी, तडित, सौदामिनी
बादलमेघ, अभ्र, जलंद, अम्बुद, जीमूत, धराधर, नीरद, पयोद, बलाहक,वारिद, वारिधर, वारिवाह
महादेवशिव, शम्भु, शंकर, चन्द्रशेखर, शशिशेखर, गिरीश, नीलकण्ठ, पशुपति, त्रिलोचन, उमाकान्त, गौरीनाथ, रूद्र, व्योमकेश, विरूपाक्ष, श्रीकण्ड, चन्द्रचूङ, त्र्यम्बकम्,धूर्जटि।
रात्रिनिशा, रैन, रात, रजनी, यामिनी, विभावरी, क्षणदा, त्रियामा, शर्वरी
राजान्रप, भूपति, भूप, महीप, महीपति, महेश, नरेश, राव, सम्राट, अवनीश, नरेन्द्र, महिपाल
विष्णुअच्युत, जनार्दन, चक्रपाणि, विश्म्भर, मुकुन्द, नारायण, हषिकेश, गोविन्द, माधव, लक्ष्मीपति, विश्वरूप, उपेन्द्र, कमलाकान्त
समुद्रसागर, जलधि, पारावार, सिन्धु, नीरनिधि, नदीश, पयोधि, अर्णव, रत्नाकर, वारीश, नीरधि, जलधाम, अक्पाद, उदधि, नदीश
सूर्यमार्तण्ड, दिनकर, रवि, भास्कर, प्रभाकर, सविता, पतंग, दिवाकर, आदित्य, अंशुमाली, भानु, तरणि, सूर, हंस, विरोचन, दिनेश
सिंहशार्दूल, म्रगराज, म्रगेन्द्र, केसरी, केहरि, केशी, शेर, व्याघ्र, पशुराज ,वनराज
स्त्रीअबला, नारी, रमणी, कामिनी, सुन्दरी, वामा, भामा, औरत, वनिती, महिला, कांता
हाथीगज, हस्ति, मतंग, नागक, कुंजर, द्विप, व्दिप, वारण, कुंभी, करीश, करवर, करी, सारंग
हरिणम्रग, कुरंग, सारंग, क्रष्णसागर, हिरन
साँपसर्प, अहि, उरग, काकोदर, चक्षुश्रवा, पन्नग, जिव्हांग, नाग, फणी, फणीश, भुजंग, हरि,व्याल
हिमालयनगराज, हिमगिरि, हिमाद्रि, हिमाचल, नगधिराज, नगपति
हनुमानकपीश, महावीर, आंजनेय , मारुतिनन्दन, पवनपुत्र, मारूतेय, रामदास, रामदूत
रावणदशमुख, दशानन, लंकेश, लंकापति
सोनास्वर्ण, कंचन, कनक, हेम, होटक, सुवर्ण, तपनीय, महारंजन, हिरण्य
पत्थरपाहन, पाषाण, शिला, शैल, प्रस्तर, उपल, अश्म
मोरमयूर, शिखी, मेहप्रिय, मेहनर्तक, नीलकण्ठ
सरस्वतीभारती, वागेश्वरी, शारदा, वीणापाणि, वाग्देवी, महाश्वेता, ज्ञानदा, हंसवाहिनी
दुर्गाचण्डी, चण्डिका, चामुण्डा, भवानी, सुभद्रा, भव्या, महागौरी, कल्याणी, शैलपुत्री, शाम्भवी, अम्बा, अम्बिका,
लक्ष्मीइन्दिरा, कमला, श्री, सिन्धुजा, सती, पद्मा, विष्णुप्रिया
पार्वतीउमा, गौरी, भवानी, अम्बिका, दुर्गा, अभया, रूद्राणी
रामरघुनायक, राघव, रघुपति, सियाराम , श्रीराम, रघुनाथ
क्रष्णमुरळीधर, गिरिधर, नागर, कन्हैया, कान्ह, किशन, गोपीनाथ, व्दारकाधीश
भ्रमरभँवरा, मधुप, मिलिन्द, मधुकर, भ्रँग, भौंरा, अलि, चंचरीक, शिलीमुख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!